Vishwa Stanpan Diwas : ममता संस्था द्वारा एचसीएल फाउंडेशन के सहयोग से एक जागरूकता अभियान जुग जुग जियो के नाम से आरंभ किया गया

आर एल पाण्डेय लखनऊ। Vishwa Stanpan Diwas के अवसर पर ममता संस्था द्वारा एचसीएल फाउंडेशन के सहयोग से एक जागरूकता अभियान जुग जुग जियो के नाम से आरंभ किया गया इस अभियान की शुरुआत बाल विकास परियोजना अधिकारी अलीगंज सुनीता राय ने किया ।

Vishwa Stanpan Diwas : ममता संस्था द्वारा एचसीएल फाउंडेशन के सहयोग से एक जागरूकता अभियान जुग जुग जियो के नाम से आरंभ किया गया
ममता संस्था द्वारा एचसीएल फाउंडेशन के सहयोग से एक जागरूकता अभियान जुग जुग जियो के नाम से आरंभ किया गया

इस मौके पर उन्होंने कहा कि स्तनपान को प्रोत्साहित करने और दुनिया भर के शिशुओं के स्वास्थ्य में सुधार के लिए हर साल 1 से 7 अगस्त तक विश्व स्तनपान सप्ताह  मनाया जाता है। इसकी शुरूआत अगस्त 1990 में हुई थी। विश्व स्तनपान सप्ताह घोषित किए जाने का उद्देश्य स्तनपान को बढ़ावा देना था, जिससे शिशुओं को सही पोषण और उनका स्वास्थ्य बेहतर किया जा सके। 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, स्तनपान माताओं और बच्चों, दोनो के लिए बेहतर स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है। स्तनपान को बढ़ावा देकर हर साल 8 लाख से अधिक जानें बचाई जा सकती है, इनमें ज्यादा संख्या 6 महीने से कम उम्र के बच्चों की है। स्तनपान कराने से माताओं को स्तन कैंसर, डिम्बग्रंथि के कैंसर, टाइप 2 डायबिटीज और हृदय रोगों के होने की संभावना कम हो जाती मां का पहला दूध बच्चे के लिए बहुत ही उपयोगी होता है जिसे कोलोस्ट्रम कहते हैं जन्म के 1 घंटे के अंदर ही बच्चे को मां का पहला गाढ़ा दूध जरूर पिलाना चाहिए जिससे बच्चा स्वस्थ और बहुत सारी बीमारियों से बच जाता है

बच्चे को 6 माह तक सिर्फ मां का दूध ही पिलाना चाहिए ऊपर से कुछ भी नहीं पानी भी नहीं क्योंकि मां का दूध ही बच्चे के लिए सर्वोत्तम आहार है उन्होंने कहा कि बच्चे को 6 माह के उपरांत हल्के भोजन से जैसे दलिया मछला हुआ केला आदि से शुरुआत करनी चाहिए और धीरे-धीरे इसे बढ़ाने से जिससे बच्चे का विकास सही तरीके से हो सके।  

 इस मौके पर HCL फाउंडेशन की स्पोक  पर्सन कविता कुमारी भी उपस्थित थी उन्होंने बाल विकास परियोजना अधिकारी से स्तनपान सप्ताह पर  एससीएल के विभिन्न पार्टनर साथियों के द्वारा किए जा रहे विभिन्न प्रकार की के कार्यक्रमों के बारे में विस्तृत चर्चा की। 

 इस मौके पर प्रमुख रूप से उदय परियोजना के प्रोग्राम मैनेजर  क्षमाशील वर्मा  कम्युनिटी मोबिलाइजर निशा सिंह गायत्री सोनकर सुमन शुक्ला  और आंगनवाड़ी वर्कर भी उपस्थित थी।